Saturday, February 04, 2017

बेलन और चलाना है--नशे को दूर भगाना है-अनीता शर्मा

Sat, Feb 4, 2017 at 3:04 PM
बेलन ब्रिगेड ने की नशे के खिलाफ जंग और तेज़ करने की घोषणा 
महिलाये अनपढ़ों की तरह वोटर मशीन पर  घोडा, ऊंट, ढूंढ कर ही वोट डालती रहेगी - बेलन ब्रिगेड 
लुधियाना::4 फरवरी 2017:: (पंजाब स्क्रीन ब्यूरो):
बेलन ब्रिगेड की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनीता शर्मा ने अपने मतदान का प्रयोग लुधियाना के सिविल लाइन पोलिंग स्टेशन पर  किया। इसके बाद मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मतदान समाप्त होने के बाद  और चुनावी परिणाम आने के बाद भी उनका काम अभी समाप्त नहीं हुआ। नशे के साम्राज्य को समाप्त करने में अभी और वक़्त लगेगा। उन्होंने उन सभी का धन्यवाद भी किया जिन्होंने नशे के खिलाफ चलाये संघर्ष में अपना योगदान दिया और नशे को जड़ से उखाड़ने के लिए खुल कर आगे भी आये। इसके साथ ही मैडम अनीता शर्मा ने चेतावनी भी दी कि जिन्हों ने हमारे निवेदन को अनदेखा और अनसुना करते हुए गुपचुप रह कर नशा बांटा उनका हिसाब अब वक़्त आने पर जनता के सामने रखा जायेगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि घरों को बर्बाद करने वाली नशे की दुकानें अब हम नहीं चलने देंगें। उन्होंने नया नारा भी दिया: जिसने घर बर्बाद किये--वो दूकान बदलनी है 

इस अवसर पर अनीता शर्मा ने सभी महिलाओं से अपील की है कि वे घरों से बाहर निकल कर अपने मत का प्रयोग करें क्योंकि जब तक समाज में महिलाएं पुरुष प्रधान समाज में आगे आकर कोई काम नही करती तब तक हमारा समाज पिछड़ा ही रहेगा। उन्हने याद भी दिलाया कि सरकार चाहे कोई भी बने हम नशे के खिलाफ अभियान जारी रखेंगे।
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर सरकार को आमदन की कोई समस्या है तो हमसे आमने सामने बात करे हम सर्कार को बताएंगे कि समाज को स्वस्थ रखते हुए आमदनी कैसे बढ़ाई जा सकती है। किसी भी समाज की शक्ति आम तौर पर यवायों पर निर्भर होती है।  बच्चों को समाज का भविष्य कहा जाता है। इस मुख्य शक्ति और भविष्य को खोखला करके, शक्तिहीन बना कर, अपाहज बना कर अगर सरकार आमदनी बढ़ाने की सोचती है तो यह खोखली आशाएं हैं। 

आज़ादी के 70 साल बाद भी न तो नेता, न सरकार, न ही लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ कहलाने वाले समाचार पत्र ही देश की जनता को शिक्षित करने में कामयाब हो सके है। तभी तो भारत के लोग आज भी चुनावो में अनपढ़ो की तरह  मतपत्रो पर हाथी, घोडा, ऊंट की  फोटो ढूंढ के बटन दवाते है शराब व पांच सौ के नोट लेकर उम्मीदवारों के हक़ में वोट डालते है। क्या आप ने कभी सोचा है कि इन स्वार्थी मतलब परस्त, बेईमान लीडरो ने भारत की जनता को सिर्फ वोट की लालच ने ही गरीब और भिखारी बना दिया है।
नेताओ ने लोगो को रोज़गार देने व खुद कमाने लायक आज तक नहीं बनाया है और न ही हमारे  नेता लोग देश की जनता को शिक्षित करना चाहते है क्योकि जिस  दिन  भारत की जनता शिक्षित  हो गई उस दिन चुनावो में वायदे करने वाले और नोट व  शराब देकर वोट लेने वाले नेताओ का  धन्धा ही खत्म हो जायेगा। 
उन्होंने कहा कि महिलाएं पुरुषों के बराबर कंधे से कन्धा मिलाकर समाज में कार्य नहीं करेगी तब तक  नारी आज भी इस आधुनिक युग में अबला ही रहेगी इसलिए जब तक हर औरत अपने अधिकारो  के लिए नही लड़ेगी,  तब तक भारत की महिलाये अनपढ़ों की तरह वोटर मशीन पर  घोडा, ऊंट ,कुर्सी, कुत्ता बिल्ली  ढूंढ कर ही वोट डालती रहेगी।  उन्होंने साफ़ कहा कि अब यह काम हम महिलायों को ही अपने हाथों में लेना होगा। समाज का नव निर्माण हमीं से होगा। 

चुनाव 2017 के रंग में रंगा हलका महल कलां

Sat, Feb 4, 2017 at 7:59 PM
हर वर्ग में रहा भारी उत्साह
भदौड़ 4 फरवरी (विजय जिंदल///पंजाब स्क्रीन)
2017 की मतदान के मद्दे नजर हलका महल कलां (104) में पाया गया भारी उत्साह हर वर्ग में मतदान में प्रति भारी योगदान, नौजवान, बुज़ुर्ग, और हर वर्ग में वोट डालनेे प्रति रूचि दिखाई दी, हलका महल कलांं के 151886 कुल वोटर हैं, मेल वोटर 80 475 और फीमेल 71 411 कुल बूथ हलके में 163 हैं, टोटल गांव हल्के में 74 हैं, हलका महल कलां के कुल 6बूथ हैं, जिन में 23 नंबर बूथ में 843 वोट भुगते, 24 नं: बूथ में 808 वोट, बूथ नं 25 के 679 और 28 नंबर बूथ के 657 वोट, और बूथ नं 26 में और 27 नं बूथ में 75 से 80 प्रतिशत के करीब कुल वोट भुगती। वोटों का रंग लोगों पर इतना चढा था कि महल कलां के बाजार खुले नजर नही आए, बाजारों में पूरा दिन सुनसान और शान्ति नजर आई। 
चुनाव कमीशन के पुख्ता प्रबंधों कारण हलके में कहीं भी कोई असुखद घटना नहीं घटी। पुलिस और सेना बल पूरा दिन पूरी चौकसी के साथ अपनी ड्यूटी पर सख्ती के साथ पहरा देते रहे जिससे कोई हुल्लडबाज या शरारती अनसर गलत हरकत न कर सके इस के अलावा उच्च अधिकारी और ड्यूटी पर तैनात ड्यूटी अफसरों ने भी अपनी यह चुनावी डयूटी पूरी तनदेही के साथ निभाई। 
पंजाब स्क्रीन डेस्क से पूनम ने और विवरण जोड़ा और बताया कि चुनावी उत्साह हर तरफ नज़र आया। युवायों में तो जोश और उत्साह था ही लेकिन इस मौके पर वृद्ध लोग भी मतदान करना नहीं भूले। उन्हें भी याद रहा कि अपने इलाके के विकास और अपनी लोगों के भले के लिए उस व्यक्ति का चुनाव करना है जो उनकी अपनी नज़र में सबसे अच्छा है। सख्त सर्दी, ठंडी हवा और वृद्ध शरीर के बावजूद वे वोट डालने के लिए पोलिंग स्टेशन तक पहुंचे और मतदान करके अपना लोकतान्त्रिक फ़र्ज़ निभाया। गौरतलब है कि इस बार अधिकतर स्थानों पर तिकौनी टक्कर नज़र आयी।  आज़ाद प्रत्याशियों ने भी इस बार की चुनावी जंग को दिलचस्प बनाया। सभी दलों के प्रत्याशियों की किस्मत अब ईवीएम में बन्द हो चुकी है। नतीजा क्या रहा, लोग किसके हक में रहे इसका  चुनावी परिणामों के दिन ही सामने आएगा। उस दिन की इंतज़ार तकरीबन सभी को बहुत शिद्दत से है।  

Thursday, February 02, 2017

भ्रष्टाचार व नशों के खात्मे के लिए बढ़ चढ़ कर कांग्रेस पार्टी का समर्थन करें


Thu, Feb 2, 2017 at 4:41 PM
वक्फ जायदादों पर नाजायज कब्जे भी करवाए
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कैप्टन अमरिन्द्र सिंह के साथ मौलाना उसमान रहमानी लुधियानवीं
लुधियाना: 2 फरवरी 2017: (पंजाब स्क्रीन ब्यूरो): 
जनता जनार्दन की शक्ति किसको बाहर का रास्ता दिखाएगी और किसको सत्ता की कुर्सी पर बिठायेगी इसका पता तो चुनावी परिणाम आने पर ही लगेगा लेकिन मतदातओं में बहुत बड़ा हिस्सा अल्पसंख्यकों का भी है। यह संख्या इतनी बड़ी अवश्य है कि किसी की भी चुनावी जीत हार का फैसला कर सकती है। मतदान से केवल दो दिन पूर्व जामा मस्जिद लुधियाना से अहम खबर मिली है। मुस्लिम समुदाय को अपना वोट कांग्रेस को देने  गया है। यह ऐलान निश्चय ही अकाली भाजपा गठजोड़ के लिए बहुत बड़ा झटका है कांग्रेस के लिए बहुत बड़ी राहत। 
विधानसभा चुनाव के इस आजुक मौके पर आज उस  समय कांग्रेस पार्टी को भारी समर्थन मिला जब प्रदेश के मुसलमानों के सबसे बड़े सियासी संगठन मजलिस अहरार इस्लाम हिंद की ओर से महाराजा कैप्टन अमरिन्द्र सिंह पर विश्वास जताते हुए लगातार दूसरी बार कांग्रेस के समर्थन का ऐलान कर दिया गया। मजलिस के महासचिव मौलाना उसमान रहमानी लुधियानवी ने इस मौके पर सभी अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों से आहवान किया है कि वे पंजाब से भ्रष्टाचार व नशों के खात्मे के लिए बढ़ चढ़ कर कांग्रेस पार्टी का समर्थन करें। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष महाराजा अमरिन्द्र सिंह से मुलाकात के दौरान मौलाना उसमान लुधियानवी ने कहा कि राज्य के अल्पसंख्यक पंजाब के सम्मान और उज्जवल भविष्य के लिए कांग्रेस पार्टी के साथ है। उन्होंने कहा कि बीते दस वर्षो के बीच अकाली-भाजपा सरकार ने जहां प्रदेश में अराजकता और नशाखोरी को बढ़ावा दिया वहीं बड़े स्तर पर अल्पसंख्यकों के साथ विश्वासघात भी किया। उन्होंने कहा कि सत्तापक्ष ने प्रदेश भर में अल्पसंख्यकों का विकास करने की बजाय वक्फ जायदादों पर नाजायज कब्जे करवाएं है। मौलाना उसमान लुधियानवीं ने कहा कि कांग्रेस धर्म-निरपेक्ष पार्टी है और पंजाब ऋषियों-मुनियों, पीरों-पैंगम्बरों की धरती है, इसलिए समय की आवश्यकता है कि कांग्रेस पार्टी को राज्य में सत्ता सौंपी जाए। अब देखना है कि अन्य अल्पसंख्यक भी खुल कर सामने आते है या अपनी वोट शक्ति का इस्तेमाल ख़ामोशी से करते हैं। 

नशा समापन:असम्भव को सम्भव करने में जुटा बेलन ब्रिगेड

अनीता शर्मा की बस यात्रा टीम ने किया कई  इलाकों का दौरा  
चुनाव  की पूर्व संध्या पर सभी राजनैतिक पार्टियों के  दफ्तरों व घरों पर पुलिस व प्रशासन कड़ी नजर रखे

4 फरवरी के चुनाव में 24 घंटे पहले शराब पीने पर पाबन्दी की मांग 
लुधियाना:: 1 फरवरी 2017:: (पंजाब स्क्रीन ब्यूरो): For more photos click here please
नशे के खिलाफ बेलन ब्रिगेड की जंग जारी है। नशे के पूर्ण समापन का यह अभियान असम्भव को सम्भव बनाने से कम नहीं लगता। अनेक घरों के सदस्यों को लील चुकी नशे की आग क्या सचमुच बुझाई जा सकेगी? पूछने पर बेलन ब्रिगेड प्रमुख अनीता शर्मा एक कविता का ज़िक्र करती हैं-शायद सुरजीत पात्र की रचना। उनका कहना है कम से कम मेरी अंतर आत्मा को सन्तोष मिलेगा कि मैंने घर घर में मौत बाँट रहे नशे के सौदागरों के खिलाफ आवाज़ बुलन्द की। मुकम्मल सफलता कब मिलेगी कहा नहीं जा सकता पर अगर पंजाब के लोग ठान लें तो यह नामुमकिन भी नहीं। मैडम अनीता ने कहा कि अगर पंजाब के लोग अपने परिजनों की दर्दनाक मौत देख कर भी नशे  खड़े नहीं होते तो फिर उनके पंजाबी होने पर भी शक इन्सान होने पर भी। एक अच्छी भली सफल आर्किटेकट अनीता शर्मा अपना काम छोड़ कर, आमदन छोड़ कर, परिवार की ज़िम्मेदारियों से वक़्त निकाल कर इस दिशा में जुटी है क्योंकि उससे नशे का शिकार हो कर मरे युवायों के परिवारों का दर्द देखा नहीं गया। For more photos click here please

नशे के सौदागरों को समाज और सियासत से निकाल से बाहर करने के लिए बेलन ब्रिगेड की बस-रथ यात्रा पंजाब के अलग अलग भागों में जारी है। आज लुधियाना के भामियां, बहादर के रोड, ताजपुर रोड, सब्ज़ी मंडी, दाना मंडी, जालंधर बाईपास, सुभानी बिल्डिंग, घण्टाघर चौंक, जी टी रोड, नया मौहल्ला, लक्कड़ बाजार, जनकपुरी, इस नगरी, किदवाई नगर इत्यादि बहुत से इलाकों में से गुज़री और जनता को नशे के खिलाफ जागरूक किया। इस मकसद के लिए जहां बस का साउंड सिस्टम जनता तक आवाज़ पहुंच रहा था वहीँ छपे हुए पर्चे भी बांटे गए। For more photos click here please
इसी बीच बेलन ब्रिगेड प्रमुख अनीता शर्मा ने फिर स्पष्ट किया कि नशे के खिलाफ शुरू की गयी इस जंग में शामिल होने के लिए सभी का स्वागत है। इसके साथ ही उन्हने निवेदन किया कि समय निश्चित किये बिना किसी भी आयोजन में उनका नाम घोषित न किया जाये। बहुत से आयोजक ऐन वक़्त पर सूचित करते हैं कई आप जल्द से पहुँच जाएं। मैडम अनीता शर्मा ने कहा कि ऐसे कार्यक्रमों में पहुंचने से वह असमर्थ होंगीं। इस लिए जो जो संगठन उन्हें बुलाना चाहते हैं वह समय निश्चित करना न भूलें।
बेलन ब्रिगेड की नशों के खिलाफ निकाली जा रही बस यात्रा निरन्तर जगह जगह गली मुहल्लों में चुनावों के दौरान नशा व शराब बाँटने वाले लोगों के खिलाफ प्रचार कर रही है कि कोई भी वोटर किसी भी पार्टी के नेता समर्थक व उम्मीदवार से शराब व नशा न ले और कोई भी वोटर शराब व नशे के लालच में किसी भी उम्मीदवार को वोट न डाले। 

यात्रा के दौरान बेलन ब्रिगेड की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनीता शर्मा ने जनता से अपील की है कि यदि कोई भी वोटर अपना ईमान बेचकर शराब व नशे के लालच में किसी बेईमान उम्मीदवार को वोट न डाले अगर वोटर  किसी गलत व भृष्ट उम्मीदवार को वोट डालता है तो इसका खामियाजा सारी जनता को भुगतना पड़ता है।
अनीता शर्मा ने पुलिस व प्रशासन से मांग की है कि चुनावो की पूर्व संध्या पर जब पोलिंग स्टेशनों पर सरकारी मुलाजमो व पुलिस की ड्यूटी लग जाती है तो उम्मीदवार इनको शराब व कबाब परोसते है इसलिए चुनाव आयोग सभी पोलिंग स्टेशनों पर सख्त निगरानी रखे और आधी रात को इनकी चेकिंग करके जो मुलाजम व पुलिस वाले नशेड़ी पाये जाते है उन्हें तुरन्त बर्खास्त किया जाये और इसके साथ साथ सभी राजनैतिक पार्टियों  के दफ्तरों व घरों पर पुलिस व प्रशासन कड़ी नजर रखे और वोटरों को शराब बांटने वाले दोनों ही धड़ों  शराब लेने व देने वालो पर क्रिमिनल केस रजिस्टर्ड किया जाए और उस जगह की तलाशी भी ली जाए  यहां पर शराब पीकर राजनैतिक पार्टियों के नेता व वर्कर वोटरों को शराब बाँटने का धंधा करते है। सरकार चुनाव में 24 घंटे पहले शराब पीने पर पाबन्दी लगाए और चुनाव वाले दिन अगर किसी वोटर पर  शक होता है की यह शराबी है उसका डोप टैस्ट किया जाये इस तरह सभी वोटर जो शराब पीकर वोट डालने आता है तो उस पर केस दर्ज किया जाए। यदि कोई उम्मीदवार शराबी हालत में पकड़ा जाता है तो जीतने के बाद उसकी सदस्यता ख़त्म की जाए और उसे चुनाव लड़ने के अयोग्य घोषित किया जाए। 
नशे के खिलाफ जब यह बस यात्रा हल्का साहनेवाल में पहुंची तो वहां इलाके के लोगों के साथ साथ कांग्रेस प्रत्याशी सतविंदर  बिट्टी ने भी गर्मजोशी से सुस्वागतम कहा और नशे के खिलाफ जंग में पूर्ण सहयोग का वायदा किया। 

Wednesday, February 01, 2017

पंजाब में हालात खराब करने के पीछे आप व खालिस्तानी कनेक्शन:वरुण मेहता

CFIB के डॉक्टर भारत ने भी दी थी आतंकी वारदातों की चेतावनी

बठिंडा//लुधियाना: 31 जनवरी 2017:(पंजाब स्क्रीन ब्यूरो): 
आतंकी वारदातों की आशंका के चलते बठिंडा में हुए कार बम धमाके ने चुनावी माहौल में सनसनी सी पैदा कर दी है। श्री हिन्दू तख़्त के प्रमुख प्रदेश प्रचारक वरुण मेहता ने बठिंडा में बम धमाके की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि जब से चुनाव प्रचार शुरू हुआ है व "आप पार्टी के समर्थन" में व "विदेशो से कटटरपंथी" पहुंचे है तब से राज्य का हालात बिगड़ रहे है। गौरतलब है कि पहले लुधियाना में  श्री हिन्दू तख़्त प्रचारक अमित शर्मा को गोलिया मारी गई व अब बठिंडा में बम धमाका कर दर्जनों बेगुनाहों को जख्मी कर 3 लोगो को मारा गया। श्री मेहता ने केंद्र सरकार व चुनाव आयोग से आम आदमी पार्टी के नेतायों व अलगावादियों के रिश्तों को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश के अमन चैन हेतु सख्त कदम उठाने की मांग की व मृतको के प्रति गहरी सवेदना व्यक्त की। गौरतलब है कि सीएफआईबी के डॉक्टर भारत ने भी इस तरह के आतंकी हमलों की आशंका बहुत पहले ही व्यक्त कर दी थी। 
बठिंडा के मौड़-मंडी इलाके में कांग्रेस प्रत्याशी हरमिन्दर सिंह जस्सी के रोड शो के दौरान एक कार में रखे प्रेशर कुकर में हुए बम ब्लास्ट से कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 12 अन्य लोग घायल हो गए। मृतकों की संख्या चार भी बताई गयी है। मृतकों में जस्सी के दफ्तर इंचार्ज हरपाल सिंह पाली भी शामिल हैं। दो की पहचान नहीं हुई है। ब्लास्ट इतना जोरदार था कि तीनों के चीथड़े उड़ गए। वारदात के बाद पूरे इलाके में सहम और सनसनी का माहौल है। हमलावरों के हौंसले देखो कि धमाके के बाद भी घटनास्थल पर फायरिंग की और तेज़ी से फरार हो भी गए।
बम धमाके ने बहुत से  लोगों को अपना निशाना बनाया। घायलों में अधिकांश की उम्र 14-15 साल है जिनमें पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। कमांडो दस्ते का एक सीआरपीएफ जवान भी घायल हुआ है। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस प्रत्याशी जस्सी डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख संत गुरमीत सिंह राम रहीम के समधी भी हैं। रोड खत्म होते ही हुए धमाके में श्री जस्सी बाल-बाल बच गए हैं लेकिन उनकी कार क्षतिग्रस्त हो गई है। विस्फोट इतना जोरदार था कि इसकी आवाज करीब एक किलोमीटर तक सुनाई दी। प्रदेश में चुनाव प्रचार के दो दिन बाकी हैं और इस धमाके के बाद पूरे इलाके में दहशत फैल गई है। पुलिस ने आतंकी घटना से इन्कार नहीं किया है। मौड़ मंडी से कांग्रेस प्रत्याशी जस्सी मंगलवार देर सायं करीब साढ़े आठ बजे मौड़ मंडी के ट्रक यूनियन व किरण अस्पताल के बीच रोड शो संपन्न करके अपने दफ्तर की ओर चले ही थे तभी मारुति 800 (पीबी 05सी 8973) में रखे प्रेशर कुकर में जोरदार धमाका हुआ और अफरातफरी मच गई। धमाके की घटना के बाद चुनावी माहौल में दहशत सी है। अन्य स्थानों पर भी सभी दल चौकस हो गए हैं। 
धमाका पूर्वनियोजित और योजनाबद्ध लगता है। मौके पर मौजूद लोगों के अनुसार विस्फोट के बाद मारुति कार हवा में उछली। तीन लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। मृतकों में पाली के अलावा दो भाई-बहन बताए जाते हैं जो भीख मांगने वहां पहुंचे थे। उनकी पहचान नहीं हो पाई है। ब्लास्ट में कमांडो दस्ते में तैनात आंध्र प्रदेश निवासी सीआरपीएफ के जवान राम बाबू सहित 12 लोग घायल हुए हैं। घटना की जानकारी मिलते ही डीसी घनश्याम थ्योरी व एसएसपी स्वपन शर्मा दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जांच शुरू की। एसडीएम लतीफ अहमद ने प्रारंभिक जांच के बाद बताया कि मारुति 800 में रखे प्रेशर कुकर में बम रखकर विस्फोट किया गया है। गौरतलब है कि दो दिन पहले से ही उक्त स्थान पर रोड शो करने की तारीख तय की गई थी। चुनावी प्रचार में चलाये जाते प्रचार अभियान में तकरीबन इतनी योजना तो बनाई ही जाती और इसका पता भी अक्सर सभी को होता है। 
इस ज़ोरदार बम धमाके के बाद पुरानी मारुति कार में प्रेशर कुकर में बम रखकर रिमोट कंट्रोल के माध्यम से ब्लास्ट किया गया। धमाके की योजना का अंदाज़ा आरम्भिक जानकारी से ही हो जाता है। एसएसपी ने बताया कि जांच में कार का नंबर जाली पाया गया है। कार पर लगा नंबर बाइक का है। उन्होंने बताया कि कार का चैसिस नंबर व इंजन नंबर मिटा दिया गया है। सीईओ चंडीगढ़ में पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) वीके सिंह से जब इस संबंध में बात की गई तो उन्होंने कहा कि जिला चुनाव अधिकारी व एसएसपी को घटनास्थल पर पहुंच कर जांच कर रहे हैं। अभी इससे ज्यादा कुछ नहीं बताया जा सकता है। इसी बीच चुनावी प्रचार में लगे सभी दल आतंकित हैं। इस धमाके ने प्रचार अभियान की पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। क्या निडरता से जारी रह सकेगा चुनावी प्रचार अभियान। 

आतंकी दौर की चरमसीमा के दौरान सन 1991 के चुनाव में भी सी तरह की वारदातों ने 100 लोगों की जान ली थी। लुधियाना में ट्रेन में दो बार हमला करके 100 से अधिक निर्दोष लोगों को आतंकी संगठनों ने गोलियों से भून दिया था। अब देखना है चुनावी अभियान पर इस धमाके का क्या प्रभाव पड़ता है। क्या इस धमाके से आम आदमी पार्टी की साख पर कोई नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा? 

Monday, January 30, 2017

नशे के खिलाफ जंग में बेलन ब्रिगेड को मिला नया साथ:रथ यात्रा भी रवाना

अपना पंजाब पार्टी और कांग्रेस ने किया सक्रिय साथ का वायदा 
लुधियाना :: 30 जनवरी 2017: (पंजाब स्क्रीन ब्यूरो)::
आखिर अनीता शर्मा और उनकी टीम की निरन्तर मेहनत रंग लायी। इस बार चुनावी अवसर पर उनको अपना पंजाब पार्टी और कांग्रेस का सक्रिय साथ मिला है। अपना पंजाब पार्टी के प्रत्याशी बलकौर सिंह गिल और कांग्रेस की तरफ से मेवा सिंह कुलार व सुशील कुमार मल्होत्रा ने बेलन ब्रिगेड की मीडिया मीट में पहुंच कर अपने समर्थन की घोषणा की। कुछ अन्य नेता और प्रत्याशी पहले ही इस मामले में अपने सहयोग और समर्थन की घोषणा कर चुके हैं। नशे के खिलाफ इस आंदोलन पर अन्य दलों का रुख अभी स्पष्ट नहीं हो सका। 
गौरतलब है कि नशों के खिलाफ 2014 से आंदोलन चला रही बेलन ब्रिगेड ने पंजाब विधान सभा 2017 के चुनावों में जनता को शराब व नशों के खिलाफ जागरूक करने के लिए आज लुधियाना से बस यात्रा आरम्भ की है। इस यात्रा में  बेलन ब्रिगेड की सदस्याएं पंजाब के गांव गली मुहल्ले में जाकर महिलाओं को चुनाव के दौरान वोटरों को नशे व शराब बाँटने वाले उम्मीदवारों पर नजर रखने और इसकी सुचना चुनाव कमीश्नर व पुलिस को देने के लिए तैयार करेगी ताकि नशे व शराब का लालच देकर कोई भी पार्टी लोगों से वोट हासिल न कर सके यह यात्रा पंजाब के कई जिलों में जाएगी। 
बेलन ब्रिगेड की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनीता शर्मा ने कहा कि नशेड़ी व लालची लोग शराब व नशे के चक्कर में अपनी वोट गलत  उम्मीदवारों को डाल देते हैं जिससे भ्रष्ट उम्मीदवार जीतकर जनता को 5 साल तक लूटते है। इसलिए हर वोटर सोच समझ कर ईमानदार उम्मीदवार को वोट डाले ताकि विधान सभा में अच्छे लोग देश व समाज की सेवा करने के लिए आगे आए। 
अनीता शर्मा ने कहा कि उनकी संस्था बेलन ब्रिगेड का मकसद समाज व वोटरों को जागरूक करना है कोई भी वोटर शराब व नशा लेकर अपनी वोट किसी के हक़ में न डाले और नौजवान वोटर मुफ्त नशे के लालच में आकर अपनी  जिंदगी को नशे के नरक में न धकेले और युवा पीढ़ी नशे से दूर रहे। 
इस मौके पर मैडम अनीता शर्मा ने यह भी कहा कि उन्होंने शराब व नशे के खात्मे के लिए भारत के प्रधान मन्त्री नरेंद्र मोदी पंजाब के मुख्यमन्त्री प्रकाश सिंह बादल व अरविन्द केजरीवाल को कई पत्र लिखे और मेमोरेंडम दिए लेकिन किसी ने भी नशे व शराब से बर्बाद हो रहे पंजाब की तरफ ध्यान नहीं दिया जोकि भारत जैसे लोकतांत्रिक देश की जनता के हित में नहीं है।  नशे का शिकार हुए मृतक युवकों के माता पिता भी साथ 
इस अवसर पर इंटलेक्चुअल सेल कांग्रेस पंजाब के वाईस प्रेजिडेंट सुशील मल्होत्रा ने कहा कि  अनीता शर्मा प्रेजिडेंट बेलन ब्रिगेड लम्बे समय से नशे के खिलाफ आन्दोलन चला रही है और उनकी यह नशा विरोधी समाज सेवा मानव कल्याण के लिए एक दिन वरदान साबित होगी।  संस्था के कन्वीनर मेवा सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने बेलन ब्रिगेड की नशा विरोधी मुहिम को कामयाब करने के लिए स्लम एरिया में 5 प्रतिशत शराब के ठेके बन्द करने का ऐलान कर  दिया है। प्रोफेसर सतीश जोशी ने कहा कि नशा  पंजाब के नोजवानो के लिए अभिशाप है और इसे खत्म करने के लिए सारे समाज को बेलन ब्रिगेड जैसी संस्थाओ का सहयोग करना चाहिए तभी नशो के जाल में फंसे पंजाब को बाहर निकाला जा सकेगा। इस अवसर पर कश्मीर कौर, आशु शर्मा, कोमल शर्मा, शोभा दीदी, सुनीता, किरण शर्मा, नेहा, सोनिया, भूपिंदर कौर, जी. एस. भटिया आदि उपस्थित हुए। अब देखना यह है कि नशे के प्रकोप और कारोबार को यह आंदोलन कितना कम कर पाता है।