Friday, August 26, 2011

अमृतसर पुलिस ने लिखी अपने नाम एक और कामयाबी


लूटेरा गिरोह के चार सदस्यों को किया काबू  
 अमृतसर से  गजिंदर सिंह किंग 

अमृतसर पुलिस को उस समय बहुत  बड़ी सफलता मिली जब उस ने लूटेरा गिरोह के चार सदस्यों को पकड़ने में सफलता हासिल की, यह  लूटेरा गिरोह अक्सर अमृतसर में आने वाले सैलानियों को लूट का शिकार बनाते थे और इस लूटेरा गिरोह में एक  लूटेरा गिरोह केवल विदेशी सैलानियों को लूटता था. इन लुटेरों के आतंक से  एक दहशत सी फैलने लगी थी. भयभीत हुए लोग अन्धेरा होने के बाद बाहर निकलते तो कई बार सोचते.हालत गंभीर हो गयी थी.
आम लोग बुरी तरह सहमे हुए थे. कुछ पता न चलता कि यह गिरोह कहां से आता और लोगों को अपना निशाना बना कर रफू चक्कर हो जाता. अमृतसर की पावन भूमी को सजदा  करने के लिए आने वाले विदेशी सैलानी इनके निशाने पर सब से पहले आते. लोग तो लोग पुलिस भी बुरी तरह परेशान थी. सैलानियों से लूटपाट करके यह खतरनाक गिरोह दूर दूर तक अमृतसर पुलिस की बदनामी का कारण भी बना हुआ था. पर यह गिरोह अधिक दिनिं तक पुलिस के हाथों से बच न सका. आखिर यह गिरोह पुलिस के शिकंजे में आ ही गया. इसके पकडे जाने पर लोगों ने राहत की सांस ली है


अमृतसर पुलिस ने  जिस खतरनाक लूटेरा गिरोह के चार सदस्यों को पकड़ने में सफलता हासिल की है वह गिरोह कोई साधारण गिरोह नहीं था. यह इयन खतरनाक था कि पलक झपटते ही किसी को भी आपनी लूट का शिकार बना लेता था, दरअसल पुलिस ने शहर के अलग-अलग स्थानों से दो गिरोह के चार सदस्यों को पकड़ने में सफलता हासिल की है, इस में से एक गिरोह ऐसा है, जो कि अमृतसर के बस स्टैंड पर आने वाले लोगों को आपने ऑटो में ले जाते थे और उन के साथ लूट-पाट कर उस लोगो को घायल कर देते थे,  पुलिस ने इस गिरोह के दो सदस्य को गिरफ्तार किया है और घटना में इस्तेमाल करने वाले ऑटो को भी बरामद कर लिया है, दुसरे गिरोह में दो व्यक्ति ऐसे है, जो कि विदेशी सैलानियों को आपना शिकार बनाते थे और विदेशी सैलानियों का सामान ले कर फरार हो जाते थे, वहीँ पुलिस ने इन दो गिरोह को पकड़ने में सफलता हासिल की, यह जानकारी अमृतसर के पुलिस कमिश्नर आर, पी  मित्तल ने प्रेस वार्ता दौरान दी और बताया कि आने वाले समय में इन से और कई खुलासे हो सकते है, जिस से कई और नाम सामने आने की उम्मीद है, जो इस गिरोह में शामिल थे

2 comments:

Navin C. Chaturvedi said...

आज के दौर में इस तरह के पुलिसिया काम हौसला बढ़ाते हैं

Rector Kathuria said...

आपने बिलकुल सही कहा नवीन भाई....उससे जनता का मनोबल मजबूत होता है और व्यवस्था के प्रती विशवास भी.....!