Friday, November 26, 2010

मत रो माता लाल तेरे बहुतेरे.......!

आज 26 नवंबर है. भारत पर हुए सबसे बड़े आतंकी हमले की दूसरी बरसी.  आज भी उस दिन की याद उसी तरह ताज़ा है. इस मौके पर बहुत  कुछ कहा सुना जा रहा है. उस समय जिस बहादुरी से काम लिया गया उसे याद करते हुए  अखंड भारत वन्दे मातरम (videos) ने  एक वीडियो पोस्ट किया है. इस वीडियो में  देश भक्ति का एक गीत है. इस गीत को 1963 में रलीज़ हुई बन्दिनी फिल्म से लिया गया है. शैलेन्द्र के लिखे हुए इस गीत को आवाज़ दी है मन्ना डे ने और संगीत से सजाया है सचिन दा ने.

26 नवम्बर के ~~ अमर शहीदो...


मत रो माता लाल तेरे बहुतेरे 

मत रो माता लाल तेरे बहुतेरे

जन्मभूमि के काम आया मैं

बड़े भाग है मेरे

मत रो माता लाल तेरे बहुतेरे.....................


ओओ हँस कर मुझको आज विदा कर

जनम सफल हो मेरा

ओओ हँस कर मुझको आज विदा कर

जनम सफल हो मेरा

रोता जग में आया हँसता चला ये बालक तेरा

मत रो माता लाल तेरे बहुतेरे......................


धूल मेरी जिस जगह तेरी

मिटटी से मिल जाएगी

ओओ धूल मेरी जिस जगह तेरी

मिटटी से मिल जाएगी

सौ सौ लाल गुलाबो की फूलबगिया लहराएगी

मत रो माता लाल तेरे बहुतेरे......................


ओओ कल में नहीं रहूँगा लेकिन

जब होगा अँधियारा

ओओ कल में नहीं रहूँगा लेकिन

जब होगा अँधियारा

तारो में तू देखेगी एक हँसता नया सितारा

मत रो माता लाल तेरे बहुतेरे......................


फिर जन्मुंगा उस दिन जब

आजाद बहेगी गंगा

मईया आ फिर जन्मुंगा उस दिन जब

आजाद बहेगी गंगा

उन्नत ढाल हिमालय पर जब लहराएगा तिरंगा

मत रो माता लाल तेरे बहुतेरे......................



इस गीत को सुनने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.  

1 comment:

Navin C. Chaturvedi said...

वाह कथूरिया जी कितना पुराना गीत पढ़ने को मिला आप के माध्यम से| धन्य हैं आप| बहुत कुछ भरा पड़ा है बाबा की 'झोली' में| जय हो|